छोड़कर सामग्री पर जाएँ

आजीवन में उपसर्ग क्या है | आजीवन का मूल शब्द और उपसर्ग | Aajivan Me Upsarg

    आजीवन में उपसर्ग क्या है | Aajivan Me Upsarg

    आजीवन में ‘‘ उपसर्ग है

    आजीवन का उपसर्ग ‘आ’ होगा जबकि मूल शब्द ‘जीवन’ होगा।

    आजीवन का उपसर्ग और मूल शब्द अलग कीजिए

    + जीवन = आजीवन

    आजीवन शब्द ‘आ’ उपसर्ग और ‘जीवन’ मूल शब्द से मिलकर बना है।

    आजीवन का मूल शब्द क्या है

    आजीवन का मूल शब्द ‘जीवन’ होगा।

    उपयोगी उपसर्ग और मूल शब्द

    यहाँ पर परीक्षाओं के लिए अति महत्वपूर्ण उपसर्ग और मूल शब्द दिए गए हैं, अभी पढ़ें क्योंकि ये सभी उपसर्ग और मूल शब्द परीक्षाओं के लिए बहुत जरूरी हैं –

    अनाथ में उपसर्गअनाचार में उपसर्ग
    अनमोल में उपसर्गअसीम में उपसर्ग
    अनजान में उपसर्गअधर्म में उपसर्ग
    अधर में उपसर्गअथाह में उपसर्ग

    उपसर्ग क्या होते हैं : अर्थ और परिभाषा जानिए

    उपसर्ग को इंग्लिश में Prefix कहते हैं। उपसर्ग ऐसे अव्यय होते हैं, जो किसी शब्द के पहले यानि आरंभ में लगकर उस शब्द का अर्थ और आकार बदल देते हैं, साथ ही उसमें विशेषता उत्पन्न करते हैं। उपसर्ग का शाब्दिक अर्थ होता है, शब्द के पूर्व में जुड़ना और उसमें विशेषता लाना। अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें 👉 उपसर्ग की परिभाषा

    निष्कर्ष

    इस आर्टिकल के द्वारा हमने आपको बताया है कि ‘आजीवन में उपसर्ग और मूल शब्द’ क्या है।

    संबंधित जानकारी :  उपसर्ग की परिभाषा, भेद और उदाहरण : Upsarg ki Paribhasha (हिंदी, संस्कृत में)

    बहुत से लोग “आजीवन में उपसर्ग” की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं और जानना चाहते हैं कि “आजीवन में उपसर्ग क्या होगा“। इसलिए हमने आपकी जानकारी के लिए इस आर्टिकल में ‘Aajivan Me Upsarg‘ बताया है।

    इसके अलावा कई लोग आजीवन का उपसर्ग और मूल शब्द अलग कीजिए जैसे प्रश्न करते हैं इसलिए यहाँ पर आजीवन का उपसर्ग और मूल शब्द अलग करके बताया गया है।

    अगर आप भी “आजीवन का मूल शब्द क्या है” की जानकारी खोज रहे हैं, तो यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित होगा। आशा करते हैं कि यह पोस्ट आपको पसंद आएगी।

    Spread the love by sharing this article :-

    Content is protected by the DMCA.