Skip to content

मनुष्य का वैज्ञानिक नाम क्या है और मनुष्य का वर्गीकरण | Manushya Ka Vaigyanik Naam Kya Hai और Vargikaran

स्कूल के पाठ्यक्रम से लेकर कॉलेज तक मनुष्य के वैज्ञानिक नाम से जुड़े कई सवाल पूछे जाते हैं। इसलिए कई स्टूडेंट मनुष्य का वैज्ञानिक नाम क्या है in Hindi जानना चाहते हैं।

आप लोगों की जानकारी के लिए यहाँ पर Manushya Ka Vaigyanik Naam Kya Hai के बारे में जानकारी दी गई है। साथ ही मनुष्य का वर्गीकरण (Manushya Ka Vargikaran) की पूरी जानकारी विस्तार से यहाँ दी गई है। यहाँ पर द्विनाम पद्धति के साथ त्रिपद नाम पद्धति में भी मनुष्य का वैज्ञानिक नाम बताया गया है।

मनुष्य का वैज्ञानिक नाम क्या है | Manushya Ka Vaigyanik Naam Kya Hai

मनुष्य का वैज्ञानिक नाम “होमो सेपियन्स” होता है, जिसे English में “Homo sapiens” लिखा जाता है। इसमें पहला शब्द ‘होमो’ मनुष्य का वंश है जबकि दूसरा शब्द ‘सेपियंस’ मनुष्य का विशिष्ट नाम है। इस प्रकार मनुष्य का द्विनाम पद्धति से वैज्ञानिक नाम होमो सेपियन्स (Homo sapiens) है।

मनुष्य का वर्गीकरण | Manushya Ka Vargikaran in Hindi

सामान्य नाममनुष्य
जगत (Kingdom)जंतु (Animalia)
अधिजगतसुकेन्द्रिक
संघ (Phylum)रज्जुकी (Chordata)
वंश (Genus)होमो (Homo)
वर्ग (Class)स्तनधारी (Mammalia)
गण (Order)नरवानर (Primates)
उपगण (Suborder)Haplorhini
InfraorderSimiiformes
कुल (Family)मानवनुमा (Hominidae)
उपकुल (Subfamily)Homininae
वंश समूह/जनजाति (Tribe)Hominini
जाति (Species)होमो सेपियंस (H. sapiens)
उपजातिH. s. sapiens (Homo sapiens sapiens)
त्रिपद नामHomo sapiens sapiens
द्विनाम नामHomo sapiens

द्विनाम पद्धति से मनुष्य का वैज्ञानिक नाम लिखने के नियम

द्विनाम पद्धति में Manushya Ka Vaigyanik Name लिखने के कुछ नियम होते हैं, जो निम्न हैं –

  • वैज्ञानिक नाम हमेशा लेटिन भाषा में लिखा जाता है।
  • वैज्ञानिक नाम में पहला शब्द वंश का और दूसरा शब्द जाति का होता है।
  • वंश के नाम का पहला अक्षर बड़ा (कैपिटल) लिखा जाता है, जबकि विशिष्ट नाम का पहला अक्षर छोटा (स्मॉल) लिखा जाता है।
  • मनुष्य का वैज्ञानिक नाम तिरछे अक्षरों में या रेखांकित करके लिखा जाता है।
संबंधित जानकारी :  लंगूर का वैज्ञानिक नाम क्या है हिंदी में : Langoor ka vaigyanik Naam Kya Hai

त्रिपद नाम पद्धति में मनुष्य का वैज्ञानिक नाम क्या होता है

यह पद्धति द्विपद नाम पद्धति का विस्तारित रूप है। त्रिपद नाम पद्धति या त्रिपद नामकरण से मनुष्य का नामकरण करने पर इसमें तीन पद शामिल हो जाते हैं। त्रिपद नाम पद्धति का इस्तेमाल अक्सर जीव (मनुष्य) की किसी उपजाति को नामांकित करने के लिए किया जाता है।

त्रिपद नाम पद्धति के अनुसार मनुष्य का वैज्ञानिक नामहोमो सेपियन्स सेपियन्स” है। जिसको English में “Homo sapiens sapiens” लिखा जाता है। यहाँ पर पहला शब्द मनुष्य का वंश ‘होमो’ है और दूसरा शब्द विशिष्ट नाम ‘सेपियंस’ हैं जबकि तीसरा नाम मनुष्य की उपजाति ‘sapiens’ है।

आधुनिक मनुष्य का वैज्ञानिक नाम

आधुनिक मनुष्य का वैज्ञानिक नामहोमो सेपियन्स सेपियन्स‘ होता है, इसे अंग्रेज़ी में ‘Homo sapiens sapiens‘ लिखते हैं।

मनुष्य प्राणी जगत का सर्वाधिक विकसित जीव माना जाता है। 20वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में निएंडरथल (Neanderthals) द्वारा एच सेपियन्स (H. sapiens) की उप-प्रजाति माना जाने के करण त्रिपद नाम पद्धति में आधुनिक मनुष्य का वैज्ञानिक नामहोमो सेपियन्स सेपियन्स‘ लोकप्रिय हो गया।

अतिरिक्त जानकारी

मनुष्य को पूरी दुनिया में अलग-अलग नामों से जाना जाता है। स्थानीय नाम अलग होने की वजह से एक ही जाति के जीवों जैसे मनुष्य को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान पाना कठिन हो जाता है। इसी समस्या का समाधान करने और किसी जीव का अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक ही नाम रखने के लिए वैज्ञानिक नामकरण का तरीक़ा अपनाया गया।

किसी भी जीव जैसे मनुष्य का वैज्ञानिक नामकरण करने के लिए द्विनाम पद्धति और त्रिपद नाम पद्धति या त्रिपद नामकरण का इस्तेमाल किया जाता है।

Spread the love by sharing this article :-