Skip to content

मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला कौन सा है (MP ka Sabse Garib Jila)

मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला कौन सा है (MP ka Sabse Garib Jila) : जब विकास की बात आती है, तो सरकारें हमें स्वच्छ और औद्योगिक कस्बों के कुछ हिस्सों की तस्वीरें दिखाती हैं, जहां विकास की रोशनी जगमगा रही होती है। देश और राज्यों की सरकारें बदलती रहती हैं, लेकिन प्रवृत्ति वही रहती है। इस आर्टिकल में हम आपको “मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला कौन सा है” के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे.

नीति आयोग द्वारा जारी एक हालिया ‘बहुआयामी गरीबी सूचकांक’ रिपोर्ट में बताया गया है कि मध्य प्रदेश की एक तिहाई से अधिक जनसंख्या गरीबी में जीवनयापन करती है साथ ही मप्र भारत का चौथा सबसे गरीब राज्य है। नीति आयोग की इस रिपोर्ट के आधार पर हम MP ka Sabse Garib Jila Kaun Sa hai के बारे में पूरी जानकारी दे रहे हैं।

मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला कौन सा है

Madhya Pradesh ka Sabse Garib Jila : नीति आयोग द्वारा जारी ‘बहुआयामी गरीबी सूचकांक 2018’ के आंकड़ों के आधार पर मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला अलीराजपुर है। यहाँ की 76.5% से अधिक आबादी ग़रीबी में जीवनयापन करने के लिए मजबूर है।

अलीराजपुर ना केवल केवल मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला है, बल्कि यह भारत में सबसे गरीब जिला भी है। अलीराजपुर की अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से कृषि पर निर्भर है, यहाँ मुख्यरूप से नकदी फसल की खेती की जाती है। रिपोर्ट के अनुसार मध्य प्रदेश भारत का चौथा सबसे गरीब राज्य है।

संबंधित जानकारी :  Hoshangabad District Tehsil List (होशंगाबाद जिला की तहसील लिस्ट)

✪ मध्य प्रदेश के 10 सबसे गरीब जिले कौन से हैं के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करें – Top 10 Poorest District in Madhya Pradesh

अलीराजपुर मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला और पिछड़ा जिला

1951 में देश में पहली बार चुनाव होने के 68 साल बाद, मध्य प्रदेश के आदिवासी बहुल अलीराजपुर ज़िले को 2018 संयुक्त राष्ट्र के बहु-आयामी गरीबी सूचकांक (MPI) के अनुसार भारत का सबसे गरीब ज़िला घोषित किया गया है। गरीबी और भुखमरी के मामले में इस जिले की स्थित अफ्रीका के सिएरा लियोन जैसी है, जो दुनियाभर में अपनी दुर्दशा के लिए कुख्यात है।

इस ज़िले में रोजगार या कृषि न होने के कारण, कोई भी पार्टी की सरकार गुजरात में बड़े पैमाने पर प्रवास को रोकने में सक्षम नहीं है। पिछले साल जब राज्य के चुनाव हुए थे, तब 15,000 लोग अलीराजपुर से बाहर गए थे। लोगों को वोट देने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा गुजरात जैसे राज्यों में टीमें भेजी गईं। इसके बाद लगभग 69.49 प्रतिशत मतदान हुआ था। इस साल प्रवासी परिवारों की गिनती जारी है। लेकिन जैसे-जैसे गर्मी आ रही है और अलीराजपुर में पानी सूख रहा है और यहाँ रहने वाले परिवार कहीं और पलायन करने के लिए पैकिंग कर रहे हैं।

खास बातें – Madhya Pradesh ka Sabse Garib Jila वाली नीति आयोग की रिपोर्ट की

  • बिहार देश का सबसे गरीब राज्य है और यहाँ की 51.91% जनसंख्या गरीब है।
  • दूसरे नम्बर पर झारखंड में 42.16% लोग ग़रीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करते हैं।
  • तीसरे स्थान पर उत्तर प्रदेश है, जिसकी 37.79% आबादी गरीब है।
  • चौथे नम्बर पर मप्र सबसे गरीब राज्य है, यहाँ के 36.65 फीसदी लोग गरीब हैं।
  • मध्य प्रदेश के बाद मेघालय 32.67% गरीब लोगों के साथ पांचवें स्थान पर है।
  • पंजाब (5.59%) ने पूरे भारत में सबसे कम गरीबी के आंकड़े दर्ज किए हैं।
  • मध्य प्रदेश में लगभग 2.5 करोड़ से अधिक लोग गरीब हैं।
संबंधित जानकारी :  Ratlam District Tehsil List : रतलाम जिले में कितनी तहसील हैं

इतिहास और अलीराजपुर का गठन : (मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला)

मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला और पिछड़ा जिला अलीराजपुर, पश्चिमी मध्य प्रदेश में स्थित एक ज़िला है। इसकी सीमाएं गुजरात व महाराष्ट्र राज्य की सीमाओं को लगती हैं। इस इलाक़े में मुख्य रूप से भील, भीलाला, बारेला, मानकर, धाणक व कोटवाल जनजाति के लोगों की निवास करते हैं। यहां की कुल जनसंख्या का 87 प्रतिशत अनुसूचित जनजाति, 4 प्रतिशत अनुसूचित जाति एवं 9 प्रतिशत अन्य जाति की श्रेणी में आती हैं।

  • भारत की आजादी से पहले अलीराजपुर मालवा क्षेत्र की एक रियासत थी।
  • अलीराजपुर को समग्र विकास के वादे के साथ 17 मई 2008 को झाबुआ से एक अलग जिले के रूप में बनाया गया था।
  • गठन के 13 साल बाद भी यह मध्यप्रदेश का सबसे गरीब जिला बना हुआ है।

राष्ट्रीय बहुआयामी गरीबी सूचकांक क्या है (MP ka Sabse Garib Jila)

भारत का राष्ट्रीय MPI जिसे बहुआयामी गरीबी सूचकांक कहा जाता है यह ‘ऑक्सफोर्ड पॉवर्टी एंड ह्यूमन डेवलपमेंट इनिशिएटिव (OPHI)’ और संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) द्वारा विकसित विश्व स्तर पर स्वीकृत और मजबूत कार्यप्रणाली का उपयोग करके आँकड़े जारी करता है।

इस रिपोर्ट में परिवारों द्वारा सामना किए जाने वाले कई अभाव को दर्शाया गया है। यह स्वास्थ्य, शिक्षा और जीवन स्तर के आधार पर पूरे देश में ग़रीबी का आकलन करता है। इसमें पोषण, बाल और किशोर मृत्यु दर, प्रसव पूर्व देखभाल, स्कूली शिक्षा के वर्ष, स्कूल में उपस्थिति, खाना पकाने के लिए ईंधन, स्वच्छता, पीने का पानी, बिजली, आवास, संपत्ति और बैंक खाते जैसे 12 संकेतकों को आधार बनाया जाता है।

मध्य प्रदेश के सबसे गरीब ज़िलों के बारे में बात करने के अलावा, रिपोर्ट से यह भी पता चलता है कि मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड के सभी जिलों में 40% से अधिक आबादी गरीबी के अधीन है। मध्य में 27 जिले ऐसे हैं जिनमें 40 प्रतिशत से कम गरीबी है। जबलपुर, भोपाल और इंदौर 19.50%, 12.91% और 10.86% आबादी गरीबी के साथ सूचकांक में सबसे नीचे हैं।

संबंधित जानकारी :  Chhatarpur District Tehsil List (छतरपुर जिला की तहसील लिस्ट)

गरीबी से बाहर क्यों नहीं निकल पा रहा अलीराजपुर जिला

उपजाऊ खेती की जमीन और घने जंगल होने के बावजूद अलीराजपुर को भारत के साथ मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला है। नीति आयोग की रिपोर्ट आने के बाद देश-दुनिया का ध्यान इस जिले की बदहाली की तरफ गया है। हालांकि, अब दो साल बीत चुके हैं इसके बाद भी इस जिले की हालत में कोई सुधार नहीं दिख रहा है और यह बद से बदतर होने की तरफ लगातार आगे बढ़ रहा है। अलीराजपुर जिला के गरीबी से बाहर नहीं निकल पाने के मुख्य कारण निम्न हैं :

  • ज़िले में रोजगार के लिए कोई औद्योगिक इकाई मौजूद नही है जिससे जीवनयापन का एकमात्र साधन खेती और जंगल पर निर्भरता है।
  • कभी प्राकृतिक सम्पदाओं से भरा यह पूरा इलाका अब सूखी नदियों, लगातार कम होते जा रहे जंगलों की वजह से गरीब होता जा रहा है।
  • ज़िले में घना जंगल कम हो रहा है, जिससे यहाँ के लोगों का जीवन प्रभावित होता है।
  • बचे जंगलों से भी इलाक़े के लोगों को रोजगार नहीं मिल रहा।
  • ज़िले में बेरोजगारी का विकराल रूप है, जिससे पलायन बढ़ रहा है।
  • मनरेगा के उपाय भी मध्य प्रदेश के सबसे गरीब जिला के लिए नाकाफी साबित हो रहे हैं।
  • ज़िले में अशिक्षा, खराब स्वास्थ्य से गरीबी बढ़ रही है।

निष्कर्ष – मध्य प्रदेश का सबसे गरीब और पिछड़ा जिला

इस आर्टिकल में हमने आपको मध्य प्रदेश का सबसे गरीब जिला कौन सा है के बारे में जानकारी दी है। आशा करते हैं कि आपको MP ka Sabse Garib Jila के बारे में दी गई जानकारी पसंद आई होगी। इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया में जरुर शेयर करें।

Spread the love by sharing this article :-