छोड़कर सामग्री पर जाएँ

प्रगति योजना : गुजरात की मेरिट आधारित प्रगति योजना क्या है | Pragati Yojana

    प्रगति योजना (Pragati Yojana) गुजरात सरकार की मेरिट आधारित प्रगति योजना की जानकारी, मेरिट आधारित प्रगति योजना क्या है, इससे कॉलेज स्टूडेंट्स को कैसे फ़ायदा होगा.

    प्रगति योजना | Pragati Yojana

    गुजरात सरकार ने कॉलेजों में पढ़ने वाले लाखों स्टूडेंट्स के भविष्य को देखते हुए आज मेरिट आधारित प्रगति नामक एक नई योजना की घोषणा की।  ताकि लाखों स्टूडेंट्स का भविष्य सही हो सके। उनकी पढ़ाई ना रुके। या जो फ़ाइनल समेस्टर में हैं उनको जॉब इंटरव्यू  देने में दिक्कत का सामना ना करना पड़े।

    अगर गुजरात सरकार प्रगति योजना को नही लाती तो गुजरात के लाखों कॉलेज स्टूडेंट्स का भविष्य अधर में लटक जाता। इसी समस्या को ध्यान में रख कर गुजरात सरकार स्टूडेंट्स के लिए मेरिट आधारित प्रगति योजना (Pragati Scheme) लाई है।

    प्रगति योजना, Pragati Yojana
    प्रगति योजना, Pragati Yojana

    प्रगति योजना का उद्देश्य स्टूडेंट्स को परीक्षा पास करने में मदद करना है ताकि वो आगे बढ़ सकें। आज हम आपको गुजरात की मेरिट आधारित Pragati Scheme (प्रगति योजना) के बारें में पूरी जानकारी देंगे।

    प्रगति योजना में स्टूडेंट्स को अपनी परीक्षा पास करने में मदद मिलेगी। गुजरात राज्य सरकार ने घोषणा की है कि गुजरात में कॉलेजों की टर्मिनल परीक्षा 25 जून से आयोजित की जाएगी। यह परीक्षा फ़ाइनल ईयर स्टूडेंट्स के साथ दूसरे और चौथे सेमेस्टर के स्टूडेंट्स के लिए भी आयोजित की जाएगी। इसी के साथ गुजरात सरकार ने मेरिट आधारित प्रगति योजना की शुरुआत की है।

    मेरिट आधारित प्रगति योजना के द्वारा स्टूडेंट्स जो फ़ाइनल सेमेस्टर  में हैं इसके अलावा बाक़ी स्टूडेंट्स को  पिछले सेमेस्टर और आंतरिक परीक्षा के अंकों में प्रदर्शन के आधार पर वर्गीकृत किया जाएगा। पिछले सेमेस्टर के नम्बर और कॉलेज के आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर स्टूडेंट्स को आगे प्रमोट करने का निर्णय लिया जाएगा। ऐसे में जो स्टूडेंट्स अपने  शैक्षणिक प्रदर्शन को बढ़ाना चाहता है उनको अगले सत्र की सेमेस्टर परीक्षा में इसके लिए दोबारा परीक्षा दे पाएँगे।

    संबंधित जानकारी :  MP Lockdown ePass : Apply Online for Madhya Pradesh Curfew ePass | Status check

    यानी मेरिट आधारित प्रगति योजना के आधार पर स्टूडेंट्स को अभी तो नेक्स्ट सेमेस्टर में प्रमोट कर दिया जाएगा लेकिन जो स्टूडेंट्स इनके नम्बर से ख़ुश नही होंगे वो जब कॉलेज खुलेंगे और शैक्षणिक सत्र चालू होगा तो अगले सेमेस्टर की परीक्षा के समय इसके लिए दोबारा परीक्षा दे सकेंगे।

    इसके अलावा गुजरात सरकार ने फाइनल ईयर के कॉलेज स्टूडेंट्स की टर्मिनल सेमेस्टर परीक्षा 25 जून करवाने का निर्णय लिया है। टर्मिनल सेमेस्टर परीक्षा की अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

    Spread the love by sharing this article :-

    Content is protected by the DMCA.