Skip to content
Home » तिरंगे के बारे में दस लाइन | 10 Lines On Our National Flag In Hindi

तिरंगे के बारे में दस लाइन | 10 Lines On Our National Flag In Hindi

    तिरंगे के बारे में दस लाइन (10 Lines On Our National Flag In Hindi) : अगर आप भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा के बारे में 10 लाइन खोज रहे हैं, तो आप सही जगह पर हैं। यहाँ हमने तिरंगे के बारे में दस लाइन (10 Lines On Our National Flag In Hindi) दी हैं, जिनको आप अपनी परीक्षा में इस्तेमाल कर सकते हैं।

    भारत में हर वर्ष 15 अगस्त को हम स्वतंत्रता दिवस मनाते हैं और 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस। इन दो खास दिनों में तिरंगे का खास महत्व है। तिरंगे को लेकर हर भारतीय का प्रेम तो जगजाहिर है लेकिन इस राष्ट्रध्वज से जुडी कुछ ख़ास बातें हर देशभक्त को जानना जरुरी है।

    तिरंगे के बारे में दस लाइन | 10 Lines On Our National Flag In Hindi

    तिरंगे के बारे में दस लाइन निम्नलिखित हैं :

    • तिरंगा, भारत का राष्ट्रीय प्रतीक है।
    • तिरंगा, भारत की स्वतंत्रता का प्रतीक है।
    • हमारे देश का राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा, आयताकार है। इसमें तीन रंग हैं – केसरिया, सफ़ेद एवं हरा।
    • सबसे ऊपर केसरिया रंग होता है, जो साहस, वीरता, शौर्य और बलिदान का प्रतीक होता है।
    • मध्य में सफ़ेद रंग होता है, जो शांति, शुद्धता तथा सत्यता का प्रतीक होता है।
    • सबसे नीचे हरा रंग होता है, जो सुख, समृद्धि, संपन्नता तथा विकास का प्रतीक होता है।
    • ध्वज के मध्य में नीले रंग का एक चक्र होता है, जिसमें 24 तीलियाँ होती हैं, जिसे अशोक चक्र कहा जाता है।
    • चक्र हमें निरंतर गति से आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है।
    • तिरंगे का सम्मान करना भारत के प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है।
    • तिरंगा भारत देश की आन-बान-शान है।
    तिरंगे के बारे में दस लाइन, 10 Lines On Our National Flag In Hindi
    तिरंगे के बारे में दस लाइन, 10 Lines On Our National Flag In Hindi

    तिरंगे के बारे में 10 बातें हर भारतीय को पता होनी चाहिए

    हमारे देश के राष्ट्रध्वज से जुडी 10 बातें देश के हर नागरिक हो जानना जरुरी है :

    1. भारत के वर्तमान राष्ट्रीय ध्वज को देश की संविधान सभा ने 22 जुलाई 1947 को चुना था। यही तिरंगा आज भारत का आधिकारिक ध्वज है।
    2. भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा को डिजाइन करने वाले ‘पिंगली वैंकैया’ एक किसान व स्वतंत्रता सेनानी थे।
    3. भारतीय क़ानून के अनुसार ध्वज को खादी से बनाना चाहिए। स्वतंत्रता के बाद भारत के राष्ट्रीय ध्वज के निर्माण का कार्य खादी विकास एवं ग्रामोद्योग आयोग को सौंपा गया था।
    4. भारत के राष्ट्रीय ध्वज को ‘तिरंगा’ के नाम से भी जाना जाता है, जिसका अर्थ होता है तीन रंग ‘केसरिया, सफ़ेद और हरा’ से बना झंडा या प्रतीक।
    5. तिरंगा के तीनों रंगों का अर्थ भी अलग-अलग होता है। केसरिया रंग – साहस और बलिदान का प्रतीक माना जाता है। सफ़ेद रंग सच्चाई, शांति और पवित्रता का प्रतीक होता है। हरा रंग सुख, समृद्धि और सन्पन्नता का प्रतीक माना जाता है।
    6. झंडा बनाने और सप्लाई करने के लिए भारत में बैंगलुरू से 420 किमी स्थित ‘हुबली’ एक मात्र लाइसेंस प्राप्त संस्थान है।
    7. भारत के ध्वज कोड के अनुसार भारतीय ध्वज 2:3 बनाया जाता है। इसमें ध्वज की लम्बाई, चौड़ाई का डेढ़ गुना होती है। साथ ही ध्वज के तीनों रंग – केसरिया, सफ़ेद और हरा को भी लंबाई-चौड़ाई के मामले में समानुपाती होना चाहिए।
    8. अशोक चक्र के माप को ध्वज कोड में निर्धारित नहीं किया गया है, मगर अशोक चक्र में 24 तीलियों का होना आवश्यक है, अशोक चक्र का रंग हमेशा नीले रंग का होता हैं।
    9. पूरे भारतवर्ष में 21×14 फीट के झंडे केवल तीन स्थानों पर ही फहराएं जाते है। वह तीनों स्थान क्रमश: कर्नाटक का नारगुंड किला, महाराष्ट्र का पनहाला किला और मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में स्थित किला है।
    10. तिरंगे में इस्तेमाल होने वाला अशोक चक्र सम्राट अशोक के सिंह स्तम्भ से लिया गया है।

    This Question Also Answers:

    • 10 Lines on Tiranga in Hindi
    • Best Lines on Tiranga in Hindi
    • राष्ट्रीय ध्वज पर 10 वाक्य
    • 10 Lines Essay on National Flag Tiranga in Hindi
    • Tiranga Ke Bare Me 10 line

    निष्कर्ष

    इस पोस्ट में हमने ‘तिरंगे के बारे में दस लाइन (10 Lines On Our National Flag In Hindi)’ बताई है। आप इन 10 लाइन को शैक्षणिक काम में इस्तेमाल कर सकते हैं। इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया में ज़रूर शेयर करें।